ALL उत्तर प्रदेश
क्या छात्रों मैं तनाव का कारण स्कूल है ?
August 4, 2019 • Rudra Ki Kalam News

लखनऊ: आज कल छात्रों मे मुख्य रूप से तनाव के कारण बहुत सी घटनाये सामने आ रही है।आज कल प्राइवेट स्कूलों की मनमानी से छात्र तो त्रस्त है पर ये सब उनके माता-पिता को नही दिखाई देेता हैं।

माता -पिता की यही लगता है उनके बच्चे पढ़ाई से पीछा छुड़ाना चाहते है परंतु सच तो सिर्फ उन्हीं को पता है जिन पर ये बीतती है। इस तनाव के कारण को जानने के लिए हमने कई स्कूल के छात्रों से बात की जिनमे से सबके अपने-अपने तर्क थे,कुछ इस प्रकार से-

● स्कूल की छुट्टी जल्दी नही होती है।

● स्कूलों की हालत(प्राइवेट स्कूल) कि हालत दुरुस्त नही है कक्षो मैं गर्मी लगती है,पीने के पानी की सुविधा नहीं है।

● वाशरूम नही जाने देते शिक्षक ,लंच टाइम बहुत कम होता है।

ऐसे कई कारण है इनमे से कुछ गंभीर समस्या जो सामने आई है वो कुछ ऐसे जैसे संडे(sunday) को भी एक्सट्रा क्लास लगाना ,छुट्टी के बाद भी एक्स्ट्रा क्लास लगाना हमेसा परीक्षाएं लेना। तथा उन्हें खेल की सुविधाओं से परे रखना जिससे बच्चो का शारारिक विकास थम जाता है , लाइब्रेरी पीरियड न देना। इन जैसे कई कारण है जीने व्यक्त नही किया जा सकता। ये सभी समस्याएं ज्यादातर आरएलब के छात्रों ने महसूस कि।  फीस तो हर चीज़ की लेते है पर सुविधायें एक नही देते। छात्रों पे ये इतना ज्यादा तनाव बना देते है के छात्र स्कूल जाने से घबराते है।

अन्य स्कूलों की तुलना इस स्कूल से तो करी ही नहीं जा सकती।